ssdssd

पूर्णिया में चलती बस में लगी भीषण आग, लपटों के बीच बाल-बाल बचे यात्री

अपहरण की सूचना पर छापेमारी करने पहुंची पटना पुलिस ने 15 अगस्त की रात सेक्स रैकेट में संलिप्त तीन लड़कियों को चार युवकों के साथ आपत्तिजनक हालत में मौज मस्ती करते गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार चार युवकों में एक कुख्यात अपराधी है. राजधानी पटना समेत कई जिलों में उसके खिलाफ रंगदारी, अपहरण और लूट के मामले दर्ज हैं. सूत्रों का कहना है कि इस मामले में दो पुलिसकर्मी पटना पुलिस के रडार पर हैं. पटना पुलिस को इन दोनों के संबंध में कई महत्वपूर्ण सूचना मिली है. बहरहाल पटना पुलिस के सीनियर अधिकारी इसकी जांच कर रही है..

0001

सूत्रों का कहना है कि 15 अगस्त को दोपहर दो बजे टाइगर और रोहित ने अलकापुरी से एक युवक सन्नी का अपहरण कर लिया. इसकी सूचना मिलने पर उसके भाई ने इसकी सूचना गर्दनीबाग थाना पुलिस को दी. सूत्रों का कहना है कि उसने पटना पुलिस को बताया कि सन्नी का अपरहण करने वाले अपराधी देह व्यपार के धंधे में लगे हुए हैं. वे लोग फिलहाल यह सब कुछ अलकापुरी के एक फ्लैट में रह कर रहे हैं.

WhatsApp Image 2021 06 16 at 5.37.45 PM

इसकी सूचना मिलने पर गर्दनीबाग थाना प्रभारी ने एक टीम के साथ अलकापुरी के सत्या अपार्टमेंट के फ्लैट में रात करीब छापेमारी करने पहुंच गए. जहां पुलिस ने तीन युवती को चार युवक के साथ आपत्तिजनक हालत में पकड़ लिया. कमरे की तलाशी ली गई तो एक मैगजीन और आठ जिंदा गोली भी मिली. पुलिस ने देह व्यपार में संलिप्त लड़कियों से पूछताछ किया तो पटना पुलिस को एक नए ठिकाने का पता चला कि वहां भी देह व्यपार का धंधा चल रहा है.

WhatsApp Image 2021 06 16 at 3.56.02 PM 1

डिजिटल पेमेंट लेने के बाद होटल में आती थी लड़कियां

उक्त सूचना के आलोक में बुधवार की रात में पटना पुलिस ने एग्जीबिशन रोड स्थित होटल दयाल में छापेमारी कर हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट (High Profile Sex Racket)में संलिप्त 7 युवतियों को आपत्तिजनक अवस्था और नशे में धुत 10 युवकों के साथ पकड़ा. सभी युवतियां पश्चिम बंगाल की रहने वाली है. छापेमारी के दौरान पुलिस ने शराब की बोतलों के अलावा लैपटॉप और मोबाइल समेत कई आपत्तिजनक चीजें भी बरामद कीं. .

7 युवतियों में 6 पश्चिम बंगाल की जबकि एक बनारस की है. पुलिस सूत्रों की मानें तो तत्कालीन एसपी मनु महाराज के समय में भी दयाल होटल में सेक्स रैकेट को लेकर छापेमारी हुई थी. बुधवार को पकड़ी गई युवतियों में अधिकांश प्रोफेशनल हैं. वे युवकों को ऐप के माध्यम से पहले अपनी तस्वीर भेजती थीं. बात बनने पर उनसे 70 प्रतिशत डिजिटल पेमेंट लेने के बाद होटल में आती थी

गांधी मैदान पुलिस को सूचना नहीं

हैरानी की बात है कि इस पूरे ऑपरेशन से गांधी मैदान थाने को अलग रखा गया. पूरी कार्रवाई की भनक तक गांधी मैदान पुलिस को नहीं लगी. कहा जा रहा है कि होटल में काफी दिनों से यह धंधा चल रहा था. आरोप है कि इसकी जानकारी थाने के कर्मियों को थी. लेकिन वह कार्रवाई के बजाय चुप्पी साधे बैठे थे. इस मामले में पटना पुलिस के दो पुलिसकर्मी सीनियर ऑफिसरों के रडार पर आ गए हैं.

Input: Prabhat Khabar

0001 3912914277 20210706 180414 0000

WhatsApp Image 2021 08 02 at 6.49.40 PM


Source link

About admin

Check Also

asaasss

हाजीपुर पुलिस ने किया ऐसी खूनी साजिश का खुलासा, जिसमें ‘कत्ल’ कभी हुआ ही नहीं

एक कत्ल होना था. लेकिन शर्त ये थी कि जिसका कत्ल हो रहा है, उसका …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x